अंकिता भंडारी हत्याकांड: गुस्साए लोगों ने हत्या आरोपी पुलकित आर्य की फैक्ट्री में लगाई आग, कल रिजॉर्ट में थी तोड़फोड़

Spread the love

ऋषिकेश: 19 साल की अंकिता भंडारी की हत्या से पूरा उत्तराखंड सुलग गया है. अंकिता भंडारी के हत्यारों के खिलाफ लोगों का गुस्सा बढ़ता ही जा रहा (Ankita Bhandari latest News) है. कल ग्रामीणों ने अंकिता भंडारी के हत्या आरोपी और बीजेपी नेता विनोद आर्य के बेटे पुलकित आर्य के रिजॉर्ट वनंत्रा में तोड़फोड़ की (Bjp leader son uttarakhand resort case) थी. पुलकित आर्य की इस फैक्ट्री के बनने के कई साल बाद वनंत्रा रिजॉर्ट को बनाया गया था. यह रिजॉर्ट पुलकित की अय्याशी का अड्डा था. फैक्ट्री में भी कई अनैतिक कार्य होने का आरोप लगाया जा रहा है.

आज भी लोगों का गुस्सा शांत नहीं हुआ है. आज स्थानीय अंजान लोगों ने रिजॉर्ट की पीछे बनी पुलकित आर्य की फैक्ट्री में आग लगा दी  है. कल जब पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार किया तो उस समय भी लोगों ने उनके साथ मारपीट की थी. पुलिस ने बड़ी मुश्किल से तीनों आरोपियों को बचाया था.

अंकिता भंडारी हत्याकांड से गुस्साएं लोगों ने बीजेपी नेती की फैक्ट्री में लगाई आग

बता दें कि बीती 18 सितंबर से लापता अंकिता भंडारी का शव आज 24 सितंबर को ऋषिकेश के पास चीला शक्ति नहर में मिला है. पांच दिन पहले अंकिता की हत्या वनंत्रा रिजॉर्ट के मालिक और बीजेपी के पूर्व मंत्री के बेटे पुलकित आर्य ने अपने रिजॉर्ट मैनेजर और अन्य कर्मचारी के साथ मिलकर की थी ऐसा आरोप है. 19 साल की अंकिता भंडारी वनंत्रा रिजॉर्ट में ही रिसेप्शनिस्ट की थी. बीती 28 अगस्त को उसने वनंत्रा रिजॉर्ट में ज्वाइनिंग की थी.

आरोपियों ने इकबाल-ए-जुर्म पुलिस को बताया कि वो अंकिता भंडारी कार को लेकर ऋषिकेश गए थे. बीच रास्ते में चीला नहर के पास उन्होंने शराब पी. इस दौरान फिर से पुलकित आर्य और अंकिता भंडारी का झगड़ा हो गया था. अंकिता ने पुलकित आर्य का फोन नहर में फेंक दिया था, जिसके बाद गुस्से में आकर पुलकित आर्य ने अंकिता भंडारी को नहर में धक्का दे दिया.

इसके बाद तीनों आरोपी वापस रिजॉर्ट में आ गए. मामले को छिपाने के लिए पुलकित आर्य ने एक साजिश रजी. साजिश के तहत पुलकित आर्य ने ही अंकिता भंडारी के गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई, लेकिन जब तीन दिनों के बाद भी अंकिता का कोई पता नहीं चला तो परिजनों ने प्रशासन पर दबाव बनाया. इसके बाद मामला रेगुलर पुलिस को ट्रांसफर किया गया. रेगुलर पुलिस ने मामले का खुलासा किया और तीनों को गिरफ्तार किया.

खबर साभार ईटीवी उत्तराखण्ड

Mankhi Ki Kalam se

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *