गणतंत्र दिवस से पहले कर्त्तव्य पथ पर दिखी भारत की ताकत, फुल ड्रेस रिहर्सल में झांकियों ने मोहा मन

Spread the love

नई दिल्ली। गणतंत्र दिवस से पहले कर्त्तव्य पथ पर भारत की ताकत देखने को मिली है। कर्त्तव्य पथ पर हुई गणतंत्र दिवस परेड की फुल ड्रेस रिहर्सल में कई राज्यों की झांकियों ने मन मोह लिया। साथ ही भारतीय सेना के दम खम को भी परेड के दौरान दिखाया गया। इस बार संस्कृति मंत्रालय की झांकी भी गणतंत्र दिवस की परेड में शामिल हो रही है। फुल ड्रेस रिहर्सल के दौरान संस्कृति मंत्रालय की झांकी में मां दुर्गा को उनके दस हाथों के साथ रौद्र रूप में दिखाया गया है। झांकी के साथ में ही महिलाओं को तलवार चलाते हुए देखा जा सकता है।

जोशीमठ में जमीन धंसने की समस्या से परेशान उत्तराखंड ने इस बार अपनी झांकी में बाबा केदारनाथ को शामिल किया है। फुल ड्रेस रिहर्सल के दौरान केदारनाथ मंदिर की थीम के इर्द गिर्द झांकी को तैयार किया गया है। झांकी में दो बड़े हिरन भी सामने की ओर देखे जा सकते हैं।26 जनवरी, 2022 को गणतंत्र दिवस परेड में भाग लेने वाले 12 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में उत्तर प्रदेश की झांकी को सर्वश्रेष्ठ झांकी के रूप में चुना गया था। उत्तर प्रदेश की झांकी का विषय ‘एक जिला एक उत्पाद और काशी विश्वनाथ धाम’ था। इस बार उत्तर प्रदेश ने अपनी झांकी को श्री राम दरबार की तर्ज पर विकसित किया है। झांकी में सामने की ओर एक ऋषि को आशीर्वाद देने की मुद्रा में दिखाया गया है।भगवान श्री कृष्ण के गीता उपदेश के लिए जाने वाले हरियाणा की थीम भी इस बार इसी तर्ज पर तैयार की गई है। फुल ड्रेस रिहर्सल में हरियाणा की झांकी में भगवान श्री कृष्ण को अर्जुन के साथ रथ पर दिखाया गया है।

साथ ही झांकी में सामने की ओर महाविष्णु को दिखाया गया है।गुजरात की झांकी में इस बार राज्य के विकास को दर्शाया गया है। हरित ऊर्जा को दिखाने के लिए झांकी के दोनों छोर पर विंड मिल को लगाया गया है। राज्य की संस्कृति को दिखाने के लिए झांकी के किनारे चल रहे लोगों को पारम्परिक वेश भूषा में दिखाया गया है।हर बार की तरह इस परेड में भी भारतीय सेना की विनाशकारी मिसाइल को झांकी के रूप में शामिल किया गया है। फुल ड्रेस रिहर्सल के दौरान भी भारतीय सेना की कई टुकडिय़ों के साथ भारी भरकम मिसाइल को भी सेना की ओर से शामिल किया गया।परेड में सभी का मन मोह लेने वाली बुलेट की सवारी भी इस बार पूरे दम खम के साथ लोगों को रिझाने आ रही है। फुल ड्रेस रिहर्सल में 9 बुलेट पर दर्जनों जवान सवार होकर तिरंगे को थामे हुए हैं। इस करतब से जवान अपने बल और बैलेंस बनाने के लिए उच्च स्तर के फोकस को दर्शा रहे हैं।

भारतीय वायु सेना गणतंत्र दिवस 2023 परेड में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेगी, जिसमें 50 से अधिक विमानों की टुकड़ी और 9 राफेल लड़ाकू विमानों का पहली बार प्रदर्शन शामिल है। इस बार नौसेना कॉम्बैट रेडी, क्रेडिबल, कोहेसिव और फ्यूचर प्रूफ की थीम के साथ गणतंत्र दिवस में भाग लेने जा रही है। झांकी को आईएन की बहु-आयामी क्षमताओं को प्रदर्शित करने के उद्देश्य से डिजाइन किया गया है और साथ ही मिशन ‘आत्मनिर्भर भारत’ के तहत प्रमुख स्वदेशी रूप से डिजाइन और निर्मित उपकरणों को भी उजागर किया गया है। झांकी का उद्देश्य आईएन में ‘नारी शक्ति’ को उजागर करना भी है।

Mankhi Ki Kalam se

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *